शनिवार, 2 जनवरी 2010

“अंकल माओवादी हमारे स्कूल क्यो उडाते है?” नक्सलियो के लिये शर्म है गांव के इन स्कूली बच्चो की चीख

पिछले एक वर्ष के भीतर नक्सलियो ने अपने झारखंड-बिहार जोन मे अधिकारिक तौर पर 58 स्कूल भवनो को उडा दिये तथा 100 से उपर स्कूल भवनो को क्षतिग्रस्त कर दिये. मुख्यतः गांवो के इन स्कूल भवनो के होने से एक बडे हिस्से मे शिक्षण कार्य ठप्प है.उग्रवादियो के कारण सरकार भी अन्य स्कूल भवन बनाने या क्षतिग्रस्त स्कूल भवनो की मरम्मत कार्य नही करवा रही है.स्कूली बच्चे हर किसी से सवाल कर रहे है कि अंकल माओवादी हमारे स्कूल क्यो उडाते है?

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें